डेकेयर में देखभाल की उम्मीद से बच्ची को निश्चिन्त छोड़ गयी माँ, पीछे हुआ इतना बुरा हाल

0
202

किसी भी माँ को दुनिया में अपने बच्चे से ज्यादा प्यारा कुछ नहीं होता. लेकिन उसी बच्चे के साथ कुछ गलत होता दिखे तो कोई माँ चुप कैसे रह सकती है. सिंगल पेरेंट्स के लिए तो ये और भी मुश्किल भरा होता है क्योंकि उनके पास अपने बच्चे को डे केयर में छोड़ने के अलावा और कोई विकल्प भी नहीं होता. मामला नॉर्थ कैरोलिना का है.

नॉर्थ कैरोलिना से डेकेयर से जुड़ा एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. एक महिला जब अपनी बच्ची को नर्सरी से लेने गई तो उसकी हालत देखकर हैरान-परेशान हो गई. जेसिका हेस नाम की महिला ने फेसबुक पर तस्वीरें पोस्ट करते हुए बताया कि उसकी बच्ची के जूतों को पैरों में टेप से कसकर बांध दिया गया था. बच्ची की उम्र मात्र 17 महीने ही है. स्टाफ ने बच्ची के जूतों को इसलिए टेप से बांध दिया था ताकि वह उन्हें बार-बार उतार ना सके.

बच्ची ने जूते उतारना कुछ दिन पहले ही सीखा था. फेसबुक पर पोस्ट में सिंगल मदर ने लिखा, क्या मेरे अलावा यहां कोई और है जो इसके लिए बुरा महसूस कर रहा है? जेसिका ने आगे लिखा, मेरी बच्ची के पैरों में जूते बहुत देर तक और बहुत टाइट बांधकर रखा गया जिसकी वजह से उसके पैरों पर निशान पड़ गए. उसके पैरों में सूजन भी आ गई है. मैं बहुत दुखी हूं कि मेरी मासूम बच्ची के साथ ऐसा किया गया, किसी को मेरी बच्ची के जूत उतारने से दिक्कत हो रही होगी और झल्लाहट में उसने ऐसा काम किया होगा. सबसे ज्यादा दर्दनाक है कि मेरी बच्ची अपने बचाव में कुछ कह भी नहीं सकती थी.

जेसिका ने डायरेक्टर से शिकायत की हालांकि वह अपनी बच्ची को इस डेकेयर से नहीं निकालेंगी. वह कहती हैं, मैं सिंगल पैरेंट हूं और मेरे बच्चे को संभालने के लिए मेरे पास परिवार का सपोर्ट नहीं है. डेकेयर में बच्ची को डालना मेरी मजबूरी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here